cricket update Hansie cronje- YES I DID IT. शिखर से शिफर तक दागदार जीवन - khabar buzz

khabar (खबर) news must be read for information According to the media survey, in today's era, 75% of the Indian population reaches the Internet for news so here you can read articles about politics, sports, life style, Bollywood gossips, and about in Indian history....

सोमवार, जुलाई 01, 2019

cricket update Hansie cronje- YES I DID IT. शिखर से शिफर तक दागदार जीवन


cricket update


cricket update 

कैपटाउन॰(दक्षिण अफ्रीका) साल 2000 के मई महीने के  शुरुवाती हफ्ते की पहली सुबह माउंटेन पर्वत को चीरती हुई धुंधली सी सूरज की किरण जब शहर की ओर पड़ी तो कोर्ट मे 200 से अधिक लोगो के सामने जज अडविन किंग ने हेन्सी क्रोनिए की तरफ देखा ओर सामने पड़ी बाइबल की तरफ इशारा करते हुए कहा



“ मिस्टर क्रोनिए सच्चाई कबुल करने से आपको मुक्ति मिल सकती है”   
cricket update


स्व्यम क्रोनिए के मुताबिक सच्चाई बताने से अब उसकी छवि एक ऐसे निर्दोष व्यक्ति की बन सकती थी जिसे आसानी से मालामाल कर देने वाली अंधेरी दुनिया मे गहरे से गहरे गड्डे की तरफ धकेल दिया था ओर फिर क्रोनिए ने जो कबुलनामा दिया मानो क्रिकेट की दुनिया मे हलचल सी फेला दी क्योंकि क्रोनिए ने भारत के उन दिग्गज क्रिकेटरों के नाम लिए थे जिन्हे देख हम बड़े हुए थे ओर जिन्हे हम अपना आइडल मानते थे

दरअसल इसकी शुरुवात हुई दिल्ली पुलिस के एक टेप रिकॉर्डर से  हुआ यूं  की दिल्ली पुलिस को शक था की कुछ आतंकी बाहरी देश से फोन पर भारत मे किसी गतिविधि ओर पैसो की लेनदेन बाबत कुछ बात कर रहे है सो दिल्ली पुलिस ने उस टेप को रिकॉर्ड कर लिया ओर जब रिकॉर्ड पूरा होने के बाद पुलिस अधीक्षक ने टेप को सुना तो वे हेरान रह गए क्योकि ये किसी आंतकी की बातचीत नहीं बल्कि एक सटोरिये ओर एक नामी क्रिकेटर के बीच मैच फिक्स करने की बात चल रही थी ओर वो क्रिकेटर था हेन्सी क्रोनिए वही हेन्सी क्रोनिए जिसे उस दौर मे क्रिकेट जगत का सबसे तेज दिमागी कप्तान कहा जाता था विपक्षी टीमों को अगर दक्षिण अफ्रीका को हराना होता था तो पहले क्रोनिए की चालाक खोपड़ी को चकमा देना होता था जो की असंभव सा था क्रोनिए की कप्तानी मे साउथ अफ्रीका की जीत का रेशियो 80/20 का था जो उस वक्त मे किसी भी कप्तान के लिए बहुत बेहतर माना जाता था ओर उसके बाद अफ्रीका को ऐसा कप्तान कभी नही मिला जो टीम की कप्तानी के मामले मे क्रोनिए जितनी सफलताएँ पा सका हो
 मुझे याद है वर्ष 1999 का विश्व कप का पहला मैच भारत के खिलाफ ओर क्रोनिए ग्राउंड मे इयरफोन लगा कर फील्डिंग कर रहे थे ओर वॉकी टॉकी के जरिये अफ्रीका के कोच बॉब वुलमर क्रोनिए को बॉलिंग ओर फील्डिंग इन्सट्रक्शन दे रहे थे ये क्रिकेट जगत मे पहला ओर अंतिम ऐसा क्षण था तब कप्तान ग्राउंड मे खड़ा ड्रेसिंग रूम बैठे अपने कोच के निर्देशा अनुसार फील्डिंग तक सेट कर रहा था ओर ये नया पेंतरा आईसीसी के किसी भी नियम का उलंघन भी नही कर रहा था
क्योकि आईसीसी ने अब तक ऐसा कोई नियम नहीं बनाया था जिसका क्रोनिये उलंघन कर रहे हो
मैच के बाद भारतीय टीम के मेनेजर अजीत वाडेकर ने आईसीसी से शिकायत की ओर आनन फानन मे आईसीसी ने भी अगले ही दिन तुरंत नया नियम लागू कर दिया जिसके अंतर्गत कोई भी खिलाड़ी ग्राउंड मे मोबाइल इयरफोन या वॉकी टॉकी के जरिए ड्रेसिंग रूम से संपर्क नही कर सकता था

जब दिल्ली पुलिस ने खुलासा किया की क्रोनिए मैच फिक्सिंग मे लिप्त है ओर पुलिस के पास उनके खुद की आवाज रिकॉर्ड के पुख्ता सबूत है तो पहले तो एक कोंफ्रेस कर क्रोनिए ने सभी आरोपो से इंकार करते हुए दिल्ली पुलिस पर मानहानि मुकदमे की धमकी दी लेकिन शाम होते होते क्रोनिए समझ चुके थे की अब चिड़िया खेत चुग गयी है ओर देर रात अपने केपटाऊँन स्थित घर से उन्होने अफ्रीका क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष आली बाकर को फोन कर बता दिया की YES I DID IT ओर बताया की  उनसे बहुत बड़ी गलती हुई है अगली सुबह आली बकर क्रोनिए को लेकर मीडिया के सामने पहुंचे एव एक लंबी प्रेस कान्फ्रेंस हुई जिसमे मीडिया के सामने क्रोनिए ने बकायदा स्वीकार किया की उसके मुकेश गुप्ता नामक सटोरिये से संबंध है जो लंदन रहता है ओर नामचीन  जौहरी है ओर अज़हर ने 1996 मे मुकेश गुप्ता से दोस्ती कारवाई थी ओर हाल ही मे खतम हुई भारत अफ्रीका सीरीज मे हारने के लिए मुझे 2 लाख डॉलर दिये गये थे ( फरवरी मार्च 2000 मे एकदिवसीय सीरीज मे भारत ने 3 मे से 2 मैच मे अफ्रीका को हराया था) कांफ्रेस मे क्रोनिए ने सिर्फ अज़हर नही बाकी कई खिलाड़ियो के नाम उझागर किए ओर 1996 टाइटन कप से लेकर विश्व कप 1999 तक कितने मैच फिक्स थे कोन कोन शामिल था पूरा क्बुलनामा मीडिया के सामने हुआ क्रोनिए के कईयो के नाम पहली बार उगलने मे कोई अनोखी बात नही थी लेकिन कुछ खास लोगो के नाम जरूर हैरान कर देने वाले थे उस वक़्त के आईसीसी प्रमुख जगमोहन डालमिया ने एक्शन लेने मे जरा भी देर नहीं की एव जांच आयोग बिठाया गया डालमिया के निर्देशों पर बीसीसीआई चीफ मुथेया ने भी भारत मे कार्यवाही करते हुए अजहरुदीन ओर पूर्व क्रिकेटर अजय शर्मा पर आजीवन प्रतिबंध लगाया जबकि विकेटकीपर नयन मोंगिया ओर अजय जाडेजा पर 5 साल का प्रतिबंध लगा दिया गया अफवाहों के बाजार मे कपिल देव का भी नाम उछला ओर कपिल देव मीडिया के सामने एक इंटरव्यू मे फुट फुट कर रोये लेकिन जब आईसीसी चीफ ने ब्यान दिया की जो जांच मे दोषी पाये जाएंगे वे ही निलंबन झेलेंगे तब जाकर कपिल देव को थोड़ी राहत मिली लेकिन मनोज प्रभाकर की मुश्किले बढ़ती जा रही थी क्योकि अजय शर्मा को जब पूछताछ के लिए बुलाया गया उन्होने भी प्रभाकर का नाम सबसे पहले लिया ओर इन सब का सूत्रधार बताया लंदन मे बैठे जौहरी मुकेश गुप्ता को

अंतत किंग आयोग की जांच शुरू हुई क्रोनिए को मुख्य आरोपी माना गया ओर उस पर आजीवन प्रतिबंध लगाया गया दिल्ली पुलिस की लाख कोशिशों के बावजूद सटोरिये मुकेश गुप्ता का कोई सुराग नहीं मिला अज़हर ओर जडेजा अपने प्रतिबंध के खिलाफ कोर्ट गए ओर उन्हे सफलता भी मिली कोर्ट ने आखिर कार प्रतिबंध हटा दिया अज़हर आजकल क्रिकेट कमेंटरी करते है सांसद का चुनाव भी लड़ चुके है जाडेजा रणजी टीम  को कोच करते है लेकिन क्रोनिय????????

cricket update

जिस इंसान ने सच्चाई का साथ देते हुए सत्य उजागर करने की हिम्मत की उसे ज़िंदगी मिली तो बहुत छोटी ओर उस छोटी सी ज़िंदगी का अंतिम पड़ाव बड़ी जिल्लत भरा था क्रोनिए के चाहने वाले बताते है की प्रतिबंध के बाद क्रोनिए की पूरी छवि बदल चुकी थी उनका झुकाव परिवार पैसा मोहमाया से दूर आध्यात्म् की तरफ बढ़ गया था उन्होने उस दौरान बाइबल को पढ़ा ओर रोज प्रार्थना के लिए चर्च जाया करते थे 1 जून 2002 को मात्र 34 वर्ष की आयु मे एक चार्टर प्लेन दुर्घटना मे हेन्सी क्रोनिए की अकस्मात म्रत्यु हो गयी उनके साथ उनके एक दोस्त ओर एक पाइलेट थे

3 टिप्‍पणियां:

क्रिकेट जगत का पहला फिक्स मैच ओर बॉलीवुड कनैक्शन 53 साल पुरानी सच्ची घटना

क्रिकेट जगत का पहला फिक्स मैच ओर बॉलीवुड कनैक्शन 53 साल पुरानी सच्ची घटना  जिस तरह आज कल क्रिकेट जगत मे फिक्सिंग का साया अक्सर मंडर...